गौरक्षा के नाम पर राजस्थान के अलवर में हुए हत्याकांड को लेकर पुरे देश में बवाल मच हुआ हैं. अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय को अपनी जान की हिफाजत का डर सता रहा हैं. वहीँ दूसरी तरफ गौरक्षा के नाम पर बने संगठनों के प्रभारियों को इसका कोई मलाल नहीं हैं.

गौरक्षा दल के सह प्रभारी प्रवीण स्वामी ने इस निर्मम हत्याकांड को जायज करार देते हुए कहा कि अगर गौ तस्करी से जुड़े लोग हमारी आस्था के साथ खिलवाड़ करेंगे, तो उनके साथ वैसा ही व्यवहार होगा, जैसा पहलू खान के साथ हुआ है. हालांकि उन्होंने इस बात से इनकार किया कि पहलू खान की हत्या की गयी है.

स्वामी ने दावा किया कि पहलू की मौत हॉर्ट अटैक से हुई है न कि लोगों ने उसकी हत्या की है. वह डरा हुआ था और मर गया. उनका कहना है कि आस्था से खिलवाड़ के कारण लोगों का यह ​गुस्सा फूटा है, जिसका शिकार पहलू खान और अन्य लोग हुए हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब है कि गौ तस्करी के फर्जी मामलें में राजस्थान के अलवर में 15 लोगों के साथ मारपीट की गयी थी, जिससे पहलू खान नामक व्यक्ति की मौत हो गयी. पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह बात खुलकर सामने आयी कि उसकी मौत पिटाई से हुई है.

Loading...