स्वदेशी और शुद्ध का दावा करने वाले रामदेव पतंजलि के उत्पादों में मिलावट सामने आ रही है. ये मिलावट भी गंभीर किस्म की है. जो लोगों की जान तक ले सकती है.

दरअसल, मध्य प्रदेश के गूना में पतंजलि के उत्पात में मिलावट की शिकायत स्थानीय जिलाधिकारी को मिली थी. जिसके बाद उन्होंने जांच के आदेश दिए. शिकायतकर्ता अंशु कदम ने बताया कि उन्होंने पड़ोस के एक किराना स्टोर से दंतकान्ति मंजन खरीदा था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने बताया कि दांत साफ करने के लिए जब घर जाकर इसे खोला तो देखा कि इसमें अजीब सा पेस्ट है. ये पेस्ट मंजन जैसा नही दिख रहा था. तो उन्होंने जनसुनवाई में इस की शिकायत जिलाधिकारी से की. जब इस की जांच हुई तो खुलासा हुआ कि ये खुजली की दवा है.

ध्यान रहे, पतंजलि का ये उत्पाद सरकारी सप्लाई के तहत सरकारी अस्पताल में मरीजों को फ्री में दिया जाता है. अब प्रशासन ये पता लगा रहा है कि आखिर दंतकांति टूथपेस्ट के अंदर खुजली की दवा कैसे भर गई. साथ ही यह भी पता लगाया जा रहा है कि कहीं बाजार में पतंजलि के नकली उत्पाद तो नहीं आ गए हैं.

हालांकि ये पहला मामला नहीं है जब पतंजलि के उत्पादों को लेकर शिकायत मिली हो. हाल ही में नेपाल सरकार ने भी पतंजलि के कई उत्पाद पर प्रतिबंध लगा दिया था.

Loading...