Friday, June 25, 2021

 

 

 

UN में फिलिस्तीनियों के अधिकारों के समर्थन पर भारत सरकार के शुक्रगुजार: रज़ा एकेडमी

- Advertisement -
- Advertisement -

मुंबई: रज़ा एकेडमी के प्रमुख अल्हाज मुहम्मद सईद नूरी ने कहा कि फिलिस्तीनी मुसलमानों को अत्याचार के बल पर अपनी ही जमीन से बेदखल करने पर जुटा इस्राइल पिछले एक सप्ताह से फिलिस्तीनीयों पर बमबारी और गोलीबारी कर रहे है। जिसमे 192 लोग शहीद हो चुके है। शहीद होने वालों में 58 बच्चे और 34 महिलाएं भी है।

उन्होने कहा कि ग्रेटर इस्राइल के नापाक मंसूबे को पूरा करने के लिए इस्राइल की नजर मस्जिद अल-अक्सा के करीब की ज़मीनों पर है। वह आसपास की ज़मीनों को फिलिस्तीनों से छिन रहा है। शेख जर्राह पर काबिज होने के लिए उसने ये खूनी खेल खेला है। लेकिन मानवाधिकार के ठेकेदार मुल्क इस्राइल के इस नरसंहार को सेल्फ डिफेंस का दे रहे है।

नूरी साहब ने कहा कि दुनिया के तमाम न्याय और शांतिप्रिय राष्ट्र फिलिस्तीन का समर्थन कर रहे है। दुनिया के कई देशों की अवाम सड़कों पर उतरकर इस्राइल के खिलाफ विरोध और प्रदर्शन कर रही है। सयुंक्त राष्ट्र में भी भारत की और से इस्राइल की जालिमाना कार्रवाई की आलोचना की गई।

उन्होने कहा कि सयुंक्त राष्ट्र में फिलिस्तीन के समर्थन से भारत को पूरी दुनिया में गर्व की नजरों से देखा गया। फिलिस्तीनी मुसलमानों के अधिकारों के समर्थन में दिया गया भारत का बयान बड़ी अहमियत रखता है। भारतीय मुसलमान फिलिस्तीन के समर्थन करने को लेकर भारत सरकार के शुक्रगुजार है। साथ ही उम्मीद करते है कि फिलिस्तीन के समर्थन का सिलसिला 1948 से लेकर उसके आजाद होने तक जारी रहेगा।

इस दौरान उन्होने सऊदी अरब सहित अरबों मुल्कों की इस्राइल के साथ रिश्तों को लेकर भी आलोचना की। उन्होने कहा कि इस्राइल और अमेरिका के पीछे भागकर अरब मुल्क मुस्लिम अवाम की नजर में न गिरे। उम्मते मुस्लिमा शदीद नफरत का इजहार कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles