Saturday, July 31, 2021

 

 

 

जामिया शूटर ने ‘मुस्लिम महिलाओं के अपहरण’ के लिए युवाओं को उकसाया

- Advertisement -
- Advertisement -

हरियाणा के पटौदी में हाल ही में हुई ‘महापंचायत’ से सामने आए एक वीडियो में एक शख्स कथित तौर पर हिंदू महिलाओं के कथित अपहरण का बदला लेने के लिए युवाओं को “मुस्लिम महिलाओं का अपहरण” करने के लिए उकसा रहा है। उस युवक ने पिछले साल सीएए के विरोध प्रदर्शन के दौरान जामिया के एक छात्र को गोली मार दी थी।

इस दौरान उसने कथित तौर पर नारे भी लगाए और कहा कि जब मुसलमान मारे जाएंगे, तो वे “राम राम” चिल्लाएंगे। द हिंदू की एक रिपोर्ट के अनुसार, विश्व हिंदू परिषद (विहिप) द्वारा रविवार को “लव जिहाद” और क्षेत्र में कथित धर्मांतरण के खिलाफ आयोजित ‘महापंचायत’ में, इस शख्स ने कथित तौर पर कहा कि उसने “जेहादियों” और “लोगों को चेतावनी दी।

उसने ये भी कहा कि आतंकी मानसिकता के साथ जब वह नागरिकता (संशोधन) अधिनियम के समर्थन में जामिया की 100 किमी की यात्रा कर सकते थे, तो हमारे लिए पटौदी बहुत दूर नहीं है। इस कार्यक्रम में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त प्रवक्ता सूरज पॉल अमू भी शामिल हुए। उन्होंने मुसलमानों की जातीय सफाई का भी आह्वान किया।

युवक ने कथित तौर पर एक नारा भी लगाया, “जब मुले काटे जाएंगे, राम राम चिल्लाएंगे। [जब मुसलमानों की हत्या की जाएगी, तो वे राम राम चिल्लाएंगे।] उसने कथित तौर पर कहा कि जब “वे हमारी बहनों का अपहरण कर सकते हैं, तो आप उनकी महिलाओं का अपहरण क्यों नहीं कर सकते”।

इस मामले में मानेसर के पुलिस उपायुक्त वरुण सिंगला ने कहा कि पुलिस को उक्त वीडियो के संबंध में कोई औपचारिक शिकायत नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि शिकायत मिलने पर पुलिस वीडियो का विश्लेषण करेगी और उचित कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles