Wednesday, June 23, 2021

 

 

 

एमबीबीएस की किताब में कोरोना के लिए तब्लीगी जमात को बताया जिम्मेदार, मांगी माफ़ी

- Advertisement -
- Advertisement -

सुप्रीम कोर्ट से लेकर कई हाईकोर्ट की फटकार के बाद भी कोरोना महामारी के प्रसार के लिए तब्लीगी जमात को  जिम्मेदार बताया जाना अब भी बंद नहीं हो रहा है। ताजा मामला एमबीबीएस की रिफ्रेंस बुक से जुड़ा है। जिसमे कोरोना महामारी के प्रसार के लिए तब्लीगी जमात को  जिम्मेदार बताया गया।

एमबीबीएस सेकंड ईयर स्टूडेंट्स के लिए रिफ्रेंस बुक ‘एसेंशियल्स ऑफ मेडिकल माइक्रोबायोलॉजी’ में लेखक- डॉक्टर अपूर्वा शास्त्री और डॉक्टर संध्या भट ने तब्लीगी जमात के खिलाफ नकारात्मक बातों का उल्लेख किया। हालाँकि विवाद बढ़ने पर दोनों ने माफी मांग ली और कहा कि अगर किताब के इस अंश से किसी को चोट पहुंची है, तो उन्हें इस पर खेद है।

डॉक्टर शास्त्री ने कहा कि जैसे ही यह उनके ध्यान में लाया गया, उन्होंने इस पर माफी मांगी और प्रकाशकों ने यह किताब वापस ले ली। शास्त्री ने कहा कि बदलाव अब किताब के अगले एडिशन में होंगे। किताब में भारत में कोरोनावायरस के प्रसार के लिए दिल्ली स्थित निजामुद्दीन तब्लीगी जमात के मरकज को जिम्मेदार बताया।

इस पर आपत्ति जताते हुए ‘स्टूडेंट्स इस्लामिक ऑर्गनाइजेशन’ ने कहा, “महामारी को लेकर अब तक ऐसी कोई स्टडी नहीं हुई, जिससे इस दावे की पुष्टि हो कि कोरोनावायरस का फैलाव तब्लीगी जमात की मरकज की वजह से हुआ। यह मीडिया की ओर से एक समुदाय का तिरस्कार करने जैसा था।

किताब के लेखकों ने भी बिना तथ्यों को जांचे ही इस कथन को शामिल कर लिया। हम खुश हैं कि उन्होंने अपनी गलती मानी और किताब वापस ले ली।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles