लखनऊ में तकरीबन 12 घंटे की चली मुठभेड़ के बाद ठाकुरगंज इलाके में छिपे संदिग्ध आतंकी को यूपी ATS ने मार गिराया हैं. संदिग्ध को आईएसआईएस (ISIS) से जुड़ा हुआ बताया जा रहा हैं. संदिग्ध की पहचान सैफुल्ला के रूप में हुई हैं. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत चौधरी ने इस बात की पुष्टि की है.

पुलिस के मुताबिक संदिग्ध को जिंदा पकड़ने की हर मुमकिन कोशिश कर चुके थे. एटीएस के आईजी ने बताया कि पहले कैमरों में देखने पर ऐसा लग रहा था कि वहां दो आतंकी छिपे हैं, लेकिन अंदर एक ही आतंकी छिपा था. पुलिस अब घर में तलाशी अभियान चला रही है.  यूपी एटीएस के मुताबिक सैफुल्लाह ISIS के खुरासन माड्यूल का सदस्य था.

ATS का दावा हैं कि एनकाउंटर के दौरान सैफुल्लाह ने 50 राउंड गोलियां फायर कीं. सैफुल्लाह के पास से 8 ऑटोमेटिक पिस्‍टल बरामद हुए हैं. उसके पास से 650 जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं. इसके अलावा पुलिस को आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का झंडा और अन्य वीडियो और पाठ्य सामग्री भी बरामद हुई है. इस हमले को देश में आईएस का पहला हमला कहा जा रहा है.

ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बलों को गैस कटर की मदद से मकान की छत भी काटनी पड़ी. इस ऑपरेशन में यूपी पुलिस के साथ 20 कमांडो भी शामिल थे.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?