judge loya supreme court pti

judge loya supreme court pti

नई दिल्ली: सोहराबुद्दीन मुठभेड़ मामले के ट्रायल जज बीएच लोया की संदिग्ध मौत के मामले की सुनवाई शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट करेगा.

दरअसल, महाराष्ट्र के एक पत्रकार बंधुराज संभाजी लोने ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर जज लोया की मौत की स्वतंत्र जांच की मांग की है. इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में भी एक याचिका दाखिल की गई है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

ध्यान रहे जज लोया की मौत 1 दिसंबर 2014 को नागपुर में हुई थी, जिसकी वजह दिल का दौरा पड़ना बताया गया था. वे नागपुर अपनी सहयोगी जज स्वप्ना जोशी की बेटी की शादी में गए हुए थे.

जज लोया देहांत से पहले वर्तमान बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और गुजरात के कई वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के ख़िलाफ़ सोहराबुद्दीन मुठभेड़ मामले की सुनवाई कर रहे थे. उनकी मौत पर परिजनो ने नवंबर 2017 में द कारवां पत्रिका से बातचीत में गंभीर सवाल खड़े किये थे.

परिजनो का आरोप है कि जज लोया को इस मामले में ‘अनुकूल’ फैसला देने के एवज में उस समय बॉम्बे हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस मोहित शाह द्वारा 100 करोड़ रुपये की रिश्वत का प्रस्ताव दिया गया था. ऐसे में परिजनों का आरोप है कि जस्टिस लोया के ना करने पर उनकी हत्या कर दी गई.