धोखाधड़ी कर देश की आम जनता को लुटने को लेकर अब सुप्रीम कोर्ट सहारा प्रमुख सुब्रत रॉय पर सख्त हो गया हैं.  सुप्रीम कोर्ट में 15 जून तक का वक्त देते हुए कहा कि 19 जून तक चेक के जरिये पैसा जमा नहीं कराया गया तो उन्हें सीधे जेल की हवा खानी पड़ सकती हैं.

दरअसल, सहारा ग्रुप की और से 1500 करोड़ मूल्य के तीन चेक और 500 और 3000 हजार करोड़ के दो चेक जमा करवाए गए हैं. कोर्ट ने कहा कि सौंपे गए चेक से 19 जून तक भुगतान नहीं होता है तो उन्‍हें तिहाड़ जेल भेज दिया जाएगा.

साथ ही कोर्ट ने उनकी जमानत को 19 जून तक के लिए बढ़ा दिया हैं. साथ ही, कोर्ट ने एंबी वैली को नीलाम करने की भी चेतावनी दी हैं. सुप्रीम कोर्ट ने फिलहाल बॉम्बे हाईकोर्ट के ऑफिसर लिक्विडेटर को नीलामी के लिए पब्लिक नोटिफिकेशन की तैयारी करने को कहा है और 19 जून को कोर्ट में दाखिल करने को कहा है.

गौरतलब रहें कि कोर्ट ने निवेशकों का पैसा लौटाने में असफल रहने के कारण एंबी वैली की नीलामी का आदेश दिया था. इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में संशोधन करते हुए कहा कि अगर सहारा समूह ने 17 अप्रैल तक 5,092.64 करोड़ रुपये सेबी के पास जमा नहीं कराए तो फिर वो एंबी वैली को नीलाम करने की कारवाई शुरू कर देंगे.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें