पशु क्रूरता निवारण अधिनियम की अधिसूचना के लागू करने के साथ ही देश भर में मोदी सरकार के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया था. हालांकि एक बार फिर से इसको लेकर मोदी सरकार को बड़ा झटका लगा है.

दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने मद्रास हाई कोर्ट द्वारा पशु बिक्री बैन नोटिफिकेशन पर लगाई गई रोक को पूरे देश में लागू कर दिया है. ये फैसला मंगलवार को चीफ जस्टिस जे एस खेहर और जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ की बैंच ने दिया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस दौरान अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल पी एस नरसिम्हा ने कहा कि वह नोटिफिकेशन तबतक लागू नहीं होगी जबतक राज्य सरकार अपने यहां के बाजार या फिर ऐसी जगह जहां पशु बिक्री होती हो वहां पर इसे जरूरी नहीं करती.

गौरतलब रहें कि इस अधिनियम की वजह से बीफ पर लगन वाले प्रतिबंध के चलते केरल, असम, गोआ, मणिपुर में बीजेपी का बीफ पार्टी का विरोध किया गया था. साथ ही कई राज्यों ने लागू से भी इनकार कर दिया था.