अपनी विवादस्पद हरकतों के कारण सुर्ख़ियों में रहने वाले हिन्दू संत स्वामी ओम पर सुप्रीम कोर्ट ने 10 लाख रूपये का जुर्माना लगाया है.

ये जुर्माना उनकी और से सुप्रीम कोर्ट में दायर एक याचिका को लेकर लगाया गया है. जिसमे उन्होंने मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा की नियुक्त को रोकने की मांग की थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

स्वामी ओम ने याचिका दायर कर मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा की नियुक्त को ग़ैरक़ानूनी करार दिया था. कोर्ट ने स्वामी की याचिका को सिरे से खारिज कर इसे ओछी हरकत करार दिया.

इसके अलावा स्वामी ओम पर 10 लाख का आर्थिक जुर्माना भी लगाया. हाल ही में स्वामी ओम की ट्रिपल तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का विरोध करने को लेकर पिटाई हो चुकी है.

दरअसल, तीन तलाक पर कोर्ट के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन करने स्वामी ओम अपने साथी के साथ सुप्रीम कोर्ट के परिसर में पहुंच थे. इस दौरान उनकी जमकर पिटाई हुई.

Loading...