नई दिल्ली | अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने जल्द सुनवाई करने से इनकार कर दिया है. सुप्रीम कोर्ट का कहना है की अभी कोर्ट के पास इस मामले की सुनवाई के लिए समय नही है. लेकिन बीजेपी के वरिष्ठ नेता और सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने सुप्रीम कोर्ट से दोबारा आग्रह किया की वो इस मामले की जल्द सुनवाई करे. हालाँकि इस दौरान कोर्ट ने स्वामी से कुछ तीखे सवाल भी किये.

सुप्रीम कोर्ट ने स्वामी से पुछा की आप इस मामले में पक्षकार भी नही है फिर आप मामले की जल्द सुनवाई की मांग क्यों कर रहे है. कोर्ट ने स्वामी को यह भी बताया की यह प्रोपर्टी से जुड़ा हुआ मामला भी है. इस पर स्वामी ने जवाब देते हुए कहा की मैं इस मामले में पक्षकार नही हूँ लेकिन मैं एक धार्मिक इंसान भी हूँ . मैं बस अयोध्या में बनने वाले मंदिर में पूजा करना चाहता हूँ.

स्वामी ने प्रॉपर्टी क्लेम के बारे में कहा की चूँकि मैं इस मामले में पक्षकार नही हूँ इसलिए मैं किसी संपत्ति पर भी क्लेम नही कर रहा हूँ. आप जिसे चाहे यह संपत्ति दे दीजिये. मेरा मंदिर-मस्जिद की जायदाद से कोई वास्ता नही है, लेकिन कोर्ट में सुनवाई में हो रही देरी की वजह से एक धार्मिक इंसान मंदिर में पूजा करने से वंचित रह रहा है. इसलिए मैं जल्द सुनवाई की मांग कर रहा हूँ.

स्वामी के जवाब पर कोर्ट ने कहा की हम आपकी भावनाए समझते है लेकिन हमारे पास इस मामले की त्वरित सुनवाई करने का समय नही है. इस पर स्वामी ने कोर्ट से आग्रह किया की वो आप मामले की पुनः सुनवाई करने का रास्ता भी खुला रखे जिससे मैं दोबारा याचिका दाखिल कर सकूँ. बताते चले की सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या विवाद को बातचीत के जरिये सुलझाने का सुझाव दिया था जिस पर अभी तक दोनों ही पक्षकारो की तरफ से कोई पहल नही की गयी है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?