sumit

नई दिल्ली : बुलंदशहर में गौरक्षा के नाम पर हिंदुवादियों के हाथो शहीद हुए स्याना के थाना प्रभारी इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की मौत और हिंसा के मामले में एक के बाद एक विडियो सामने आते जा रहे है। अब एक और विडियो सामने आया है जिसमे हिंसा के दौरान मारा गया युवक सुमित अन्य युवकों के साथ पुलिस पर पथराव करता नजर आ रहा है।

स्याना क्षेत्र के पुलिस क्षेत्राधिकारी सत्यप्रकाश शर्मा ने पीटीआई-भाषा से बातचीत में कहा कि उनके संज्ञान में भी ऐसा वीडियो आया है। उन्होंने कहा कि जब तक वीडियो की सत्यता की जांच न हो तब तक इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता है। हालांकि वीडियो असली है या एडिट कर वायरल किया गया है, इसकी अभी तक कोई पुष्टि नहीं हो सकी है।

वहीं दूसरी और मारे गए युवक सुमित के परिजनों ने अनशन शुरू कर दिया है। परिजनों ने एफआईआर से सुमित का नाम हटाने की मांग करते हुए ऐलान किया है जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होती वह खाना नहीं खाएंगे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सुमित के पिता ने कहा कि हमने पिछले तीन दिनों से भोजन त्याग दिया है। अगर सुमित का नाम एफआईआर से नहीं हटाया गया तो यह अनशन जारी रहेगा, चाहे पूरे परिवार की जान ही क्यों न चली जाए। इस हिंसा में पुलिस ने 88 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है, जिसमें 27 लोग नामजद हैं। इनमें से एक सुमित भी है।

मेरठ जोन के एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया था कि 27 लोगों पर हुई एफआईआर की सूची में सुमित का नाम 16वें स्थान पर है, उसकी मौत हो गई है,  अगर उसके खिलाफ आरोप सिद्ध भी हो जाते हैं तो भी उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की जा सकती है। चूंकि राज्य सरकार के निर्णय से एसआईटी का गठन किया गया है, सुमित को लेकर केवल एसआईटी ही कोई फैसला ले सकती है।

Loading...