Sunday, January 23, 2022

सूफी सज्जादा काउंसिल की बैठक, दरगाहों के लिए राष्ट्रीय बोर्ड की मांग

- Advertisement -

बुधवार को अजमेर में संपन्न हुई राष्ट्रीय गवर्निंग बोर्ड की बैठक में आल इंडिया सूफी सज्जादा काउंसिल ने केंद्र सरकार से दरगाह ख्वाजा साहब को शामिल करते हुए देश भर की दरगाहों के लिए एक अलग से राष्ट्रीय स्तर के बोर्ड के गठन की मांग की है।

कौंसिल के अध्यक्ष नसीरुद्दीन चिश्ती ने बैठक के बाद पत्रकारों को बताया कि बैठक में पिछले दिनों कौंसिल के दल द्वारा कश्मीर में किए गए दौरे की रिपोर्ट पेश की गई। सभी सदस्यों ने तय किया कि वहां व्याप्त गलतफहमियों को दूर कराकर अवाम को असलियत से रुबरु कराया जाए और भविष्य में कश्मीर के विकास को सूफीवाद की तर्ज पर विकसित किया जाए।

चिश्ती ने कहा कि कश्मीर से लौटा सूफी कौंसिल के दल का विचार है कि कश्मीर में सकारात्मक तरीके से पुराने सूफीवाद को लौटाने के लिए काम किया जाए और नफरत का माहौल समाप्त करने के लिए हर स्तर पर पहल की जाए। उन्होंने बताया कि बैठक में जल्द ही देश के प्रत्येक राज्य में ‘सूफी सेंटर’ खोलने के प्रयास किए जाएंगे।

सबसे पहला सूफी सेंटर जल्द ही देश की राजधानी दिल्ली में स्थापित किया जाएगा। सूफी सेंटर खोलने का मकसद देश के युवाओं को सूफीवाद से जोड़ना और तालीम के जरिए मानवता एवं प्यार को बढ़ाना है।

काउंसिल का मानना है कि दुनिया के वर्तमान परिदृश्य को वास्तव में तसव्वुफ़ की शिक्षाओं का पालन करने की आवश्यकता है। काउंसिल ने सूफीवाद की शिक्षाओं का प्रचार करने और लोगों, विशेष रूप से युवा पीढ़ी को शांति और मानवता के दुश्मनों के बुरे परिणामों से बचाने का फैसला किया है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles