arun-jaitley_650x400_51445882063

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मंगलवार को प्रेस कांफ्रेस कर डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए छोटे कारोबारियों को टैक्स में छूट देने का एलान किया है. जेटली ने कहा कि सालाना दो करोड़ से कम के टर्नओवर वालों को राहत मिलेगी.

उन्होंने कहा कि छोटे कारोबारियों के लिए 2 करोड़ के टर्नओवर पर प्रॉफिट 8% यानी 16 लाख रुपए माना जाता है. अगर कोई कारोबारी डिजिटल ट्रांजैक्शन में बिजनेस करेगा तो उसके लिए यह लिमिट घटाकर 6% यानी 12 लाख रुपए मानी जाएगी.

नोटबंदी को लेकर जेटली ने कहा, ‘‘रिजर्व बैंक की तैयारियां पूरी थीं. एक भी दिन ऐसा नहीं था जबकि रिजर्व बैंक ने बैकों को पर्याप्त करेंसी जारी न की हो. एक निश्चित स्तर की करेंसी जारी की जानी थी और इसके लिए तैयारियां पूरी थीं.’’ उन्होंने बताया कि नोटबंदी से पहले 23 लाख करोड़ रुपए के नोट छापे गए थे. नोटबंदी के वक्त 23 लाख करोड़ रुपए की करंसी बाजार में थी. 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने से 15 लाख 44 हजार करोड़ रुपए की करंसी चलन से बाहर हुई.

पुराने नोटों को जमा कराने को लेकर उन्होंने कहा, 30 दिसंबर तक हर आदमी पुराने नोट जमा करा सकता है. 5000 रुपए से ज्यादा के पुराने नोट हैं तो एक बार में जमा करा दें. अगर हर दिन जाकर थोड़ा-थोड़ा जमा करेंगे तो आप पर ही शक पैदा होगा. इसलिए बेहतर है कि सारे पुराने नोट एक साथ जमा करवा दिए जाएं.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें