pakoda

pakoda

कर्नाटक में विधानसभा चुनाव की तैयारी के तहत रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बेंगलुरु में बीजेपी की और से रैली की. इस रैली में उन्हें छात्रों की और से पकोड़ा प्रदर्शन झेलना पड़ा.

रैली स्थल पैलेस ग्राउंड के करीब ही  मेहकरी सर्किल पर डिग्री गाउन पहने कुछ छात्र आने-जाने वाले लोगों को पकौड़े बेच रहे थे. प्रदर्शनकारी छात्रों ने विरोध स्वरूप पकौड़े का अलग-अलग नाम भी रखा था. वे ‘मोदी पकौड़ा’, ‘अमित शाह पकौड़ा’ और कर्नाटक में बीजेपी के सीएम उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा के नाम पर डॉक्टर ‘येद्दि पकौड़ा’ बेच रहे थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हालांकि छात्रों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. ये भी मजेदार था कि ये पूरा विरोध ऐसे शहर में हो रहा था, जिसे आईटी हब माना जाता है. देशभर से इंजीनियर्स जॉब की तलाश में बेंगलुरू आते हैं.

ध्यान रहे पिछले दिनों एक समाचार चैनल को दिए इंटरव्यू में जब प्रधानमंत्री मोदी से रोजगार मुहैया कराने के बारे में सवाल पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि अगर कोई व्यक्ति समाचार चैनल के बाहर पकौड़ा बेचकर 200 रुपये कमाकर शाम को घर ले जाता है तो क्या वह रोजगार नहीं है.