21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग-दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देहरादून में 60,000 लोगों के साथ योग करेंगे। लेकिन सूर्य नमस्कार की वजह से इस कार्यक्रम मे मदरसे के छात्र शामिल नहीं होंगे।

वन अनुसन्धान केंद्र यानि एफआरआई की और से किए जा रहे इस खास आयोजन के लिए राज्य सरकार की पूरी मशीनरी लगी हुई है। राज्य सरकार ने आदेश जारी कर उत्तराखंड मदरसा बोर्ड को राज्य के मदरसा टीचर, मदरसा मैनेजमेन्ट और छात्रों की भागीदारी सुनिश्चित करने को कहा है।

हालांकि मदरसा बोर्ड ने सभी मदरसों में 25 जून तक की छुट्टी का ऐलान किया हुआ है साथ ही कहा कि योग दिवस के लिए अभी तक मदरसों को कोई आदेश नहीं मिला है. इसके अलावा सूर्य नमस्कार पर भी ऐतराज़ जताया है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

madarsa ncert syllabus 1509353921

ये अवकाश ईद के मौके पर जारी किया गया है। मदरसे के सभी छात्र इन दिनों अपने घरों पर रहेंगे। ऐसे मे आदेश के मुताबिक 25 जून तक सारे मदरसे बंद रहेंगे। छात्रों का अब 25 जून के बाद ही आना मुमकिन होगा।

मदरसा दार-ए-अरकम के प्रबंधक मोहम्मद अब्दुसत्तार ने कहा कि योग से उन्हें कोई दिक्कत नहीं है, नमाज़ तो खुद ही योग के करीब है. लेकिन इसके साथ ही यह भी कहते हैं कि सूर्य नमस्कार करना मुस्लिमों के लिए संभव ही नहीं है, इसलिए योग दिवस के सरकारी कार्यक्रम में भागीदारी का सवाल ही नहीं उठता।

Loading...