संसद में लगे ‘गोली मारना बंद करो, देश तोड़ना बंद करो’ नारे, बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा का भी हुआ विरोध

संसद के बजट सत्र के दौरान सोमवार को विपक्षी दलों ने सीएए, एनपीआर और एनआरसी को लेकर स्थगन प्रस्ताव नोटिस दिया। इस दौरान विपक्षी सदस्यों ने दिल्ली विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान विवादित बयान देने का आरोप लगाते हुए वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर का भारी विरोध किया।

सदन की कार्यवाही शुरू होने के साथ ही कांग्रेस के सदस्य नारेबाजी करते हुए अध्यक्ष के आसन के निकट पहुंच गए। साथ ही ‘गोली मारना बंद करो, देश तोड़ना बंद करो’ नारे लगाए। कई सदस्यों ने ‘लोकतंत्र बचाओ’, ‘भारत बचाओ’ और ‘नो सीएए-एनआरसी-एनपीआर’ के नारे वाली तख्तियां ले रखी थीं।

शोर शराबे के बीच प्रश्नकाल में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर जब पूरक प्रश्नों का उत्तर देने खड़े हुए तो कांग्रेस सदस्यों ने ‘अनुराग ठाकुर शेम शेम’ और ‘गोली मारना बंद’ करो के नारे लगाए।  उन्होंने ‘हमारा लोकतंत्र बचाओ’, ‘हमारा संविधान बचाओ’ और ‘हमारा भारत बचाओ’ के नारे भी लगाए।

लोकसभा में कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि असली हिंदू लोगों पर गोली नहीं चलाते।  ये नकली हिंदू हैं जो लोगों की आवाज बंदूक की नोक पर बंद कराना चाहते हैं। केंद्र सरकार लोकतंत्र की आवाज दबाना चाहती है।

लोकसभा में असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, हम तमाम जामिया के बच्चों के साथ हैं। ये हुकूमत बच्चों पर जुल्म कर रही है। ये जानते हैं कि एक बच्चे की आंख चली गई, बेटियों को मार रहे हैं। शर्म आनी चाहिए इनको, बच्चों को गोलियां मार रहे हैं।

विज्ञापन