रातों-रात हटाई गईं DU से सावरकर की मूर्ति, कालिख पोती पहनाई गई थी जूतों की माला

11:41 am Published by:-Hindi News

दिल्ली विश्वविद्यालय के छात्र संघ चुनाव से पहले आरएसएस (RSS) से संबद्ध अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) द्वारा  विश्वविद्यालय के नॉर्थ कैम्पस स्थित कला संकाय के गेट पर बिना अनुमति लगाई गई सावरकर की मूर्ति को अब हटा लिया गया है।

बता दें कि शुक्रवार शाम कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई (Nsui) के कार्यकर्ताओं ने मूर्ति पर कालिख पोत दी थी। इतना ही नहीं मूर्ति को जूतों की माला तक पहनाई गई थी। बताया जा रहा है कि एनएसयूआई की ओर से उठाए गए इस कदम में वाम दल की छात्र इकाई ऑल इंडिया स्टूडेंट्स एसोसिएशन (AISA) ने भी उनका साथ दिया।

खबर है कि सावरकर की मूर्ती को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे कुछ छात्रों को हिरासत में ले लिया गया हैपुलिस ने बताया कि मौके पर मौजूद एक अन्य समूह के साथ झड़प को टालने के लिए कुछ छात्रों को हिरासत में लिया गया।  पुलिस ने बताया कि प्रदर्शन कर रहे छात्रों को मौरिस नगर पुलिस थाने ले जाया गया और बाद में उन्हें छोड़ दिया गया। उन्होंने बताया कि प्रदर्शनकारी उग्र हो रहे थे।

उग्र होने संबंधी दावे को खारिज करते हुए प्रदर्शन करने वाले छात्रों ने कहा कि उनके ‘शांतिपूर्ण हस्ताक्षर अभियान’ को पुलिसकर्मियों ने रोका और उनके पर्चे फाड़ दिये। इस बीच डीयू प्रशासन के अधिकारियों ने कहा कि एबीवीपी पदाधिकारियों ने उन्हें आश्वासन दिया है कि आवक्ष प्रतिमाओं को किसी अन्य स्थान पर स्थापित किया जायेगा।

 इस बीच डीयू प्रशासन के अधिकारियों ने कहा कि एबीवीपी पदाधिकारियों ने उन्हें आश्वासन दिया है कि आवक्ष प्रतिमाओं को किसी अन्य स्थान पर स्थापित किया जायेगा।

Loading...