kunj

नई दिल्ली: भाजपा की युवा विंग के एक कथित सदस्य ने ट्विटर पर दावा किया है कि उसने रविवार को (15 अप्रैल) को दिल्ली के नोएडा सीमा पर बने रोहिंग्या शरणार्थियों के शिविर को जला दिया था. जिसके चलते लगभग 200 लोग खुले आकाश के नीचे रहने को मजबूर है.

????????????????????????????????????

अखिल भारतीय मुस्लिम मजलिस ए  मुशवरात के अध्यक्ष नावेद हामिद ने मनीष चंदेला के खिलाफ दिल्ली पुलिस और प्रधान मंत्री कार्यालय से जांच कराने और कार्रवाई करने की मांग की है. हामिद ने चंदेला बीजेवाईएम (भारतीय जनता युवा मोर्चा) के सदस्य के रूप में पहचाना जाता है, जो सत्तारूढ़ बीजेपी की युवा विंग हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बता दें कि दक्षिण दिल्ली के कालिंदी कुंज क्षेत्र में रविवार को सुबह 3 बजे आग लग गई थी. उसी दिन 1:16 पर चंदेला ने अपने ट्विटर हैंडल @CHANDELA_BJYM का से ट्वीट किया, “हाँ, हमने रोहिंग्या आतंकवादियों के घरों को जला दिया”.

????????????????????????????????????

दिल्ली पुलिस से कार्रवाई की मांग करते हुए हामिद ने ट्वीट किया, हिंदुत्व का सिपाही मनीशं चदेला जो # बीजेवाईएम का सदस्य है. खुलेआम दावा कर रहा है कि उसने दिल्ली में 15 अप्रैल 2018 को सुबह-सुबह रोहिंग्या रिफ्यूजी कैंप को जला दिया.

????????????????????????????????????

बता दे कि इस बस्ती की लगभग 55 झुग्गियों में से 44 आग में झुलस गयीं थी. जिससे 25 परिवारों के करीब 250 रोहिंग्या शरणार्थी बेघर हो गए. इस बस्ती के अधिकतर बाशिंदे या दिहाड़ी मजदूरी करते हैं या छोटी-मोटी दुकान चलाते हैं.

Loading...