उर्दू भाषा के विकास के के लिए काम कर रहे गैर सरकारी उर्दू संगठनों ने इन्द्रेश कुमार सहित आरएसएस के नेताओं को आमंत्रित करने के लिए National Council for Promotion of Urdu Language (NCPUL) के निर्देशक की खिंचाई की है।

एनसीपीयूएल गुरुवार को इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में ‘उर्दू, फारसी और अरबी के संवर्धन के लिए रोडमैप  विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया था. जिसमें राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के नेताओं ने मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित किया गया था।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उर्दू विकास संगठन (UDO) ने कहा कि यह चिंता का विषय है कि भाजपा के केंद्र की सत्ता में आने के बाद से ही राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का हस्तक्षेप दिन-ब-दिन बढ़ता ही जा रहा है.

UDO के महासचिव डॉ लाल बहदुर ने एनसीपीयूएल संचालन परिषद के अध्यक्ष को आरएसएस की कठपुतली बताते हुए कहा कि उर्दू भाषा की शैक्षणिक गतिविधियों के साथ कुछ नहीं करना है. उन्होंने आगे कहा कि इंद्रेश कुमार, जिसका नाम अजमेर दरगाह और समझोता एक्सप्रेस विस्फोट मामलों के आरोपी के रूप में हैं.

Loading...