karn

दक्षिण भारतीय राज्य कर्नाटक में शेर ए मैसूर टीपू सुल्तान की जयंती पर नफ़रत फैलाने को लेकर पत्रकार और लेखक संतोष थमैय्या को गिरफ्तार किया गया है। यह गिरफ्तारी सोमवार की रात बेंगलुरु में हुई है।

पुलिस का कहना है कि संतोष थमैय्या ने टीपू जयंती के खिलाफ लिखे लेख में ऐसी बातें लिखी हैं, जिनसे अल्पसंख्यकों की भावनाएं आहत हो सकती हैं। हालांकि भाजपा ने भी संतोष थमैय्या की गिरफ्तारी की कड़ी आलोचना की है।

भाजपा ने कांग्रेस और जनता दल सेक्यूलर की गठबंधन सरकार पर ‘अभिव्यक्ति की आजादी’ को कुचलने का आरोप लगाया है। भाजपा का कहना है कि ‘हिंदू खतरे में हैं।

चिकमंगलुरु इलाके से भाजपा विधायक और पार्टी महासचिव सीटी रवि ने कहा है कि संतोष थमैय्या ने टीपू सुल्तान द्वारा हिंदुओं पर किए गए अत्याचारों के बारे में बोला तो कर्नाटक की ‘सांप्रदायिक सरकार’ द्वारा उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

उन्होने कहा, कुछ छद्म बुद्धिजीवी लगातार हिंदू भगवानों के बारे में गलत बयानबाजी कर रहे हैं, लेकिन वो आराम से आजाद घूम रहे हैं।

बता दें कि बीते 10 नवंबर को  राज्य में टीपू गई थी। इस दौरान बीजेपी ने विरोध करने की कोशिश की। लेकिन उसे कोई खास सफलता हाथ नहीं लगी।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें