उत्तर प्रदेश के वाराणसी में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के रोड शो में जुटी इस भीड़ ने विरोधियों को सोचने पर मजबूर कर दिया है कि कांग्रेस पार्टी को हल्के में लेना सबसे बड़ी भूल हो सकती है. पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल बढ़ाने के साथ समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और भाजपा के प्रमुख चिंतन में डूब गए हैं.

अब कांग्रेस पार्टी वाराणसी के रोड शो की तरह मध्य और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी ऐसे रोड शो करने की योजना बना रही हैं. कांग्रेस पार्टी नेता बताते हैं कि आने वाले दिनों में पार्टी पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी की रैलियां भी आयोजित की जाएगी, ताकि उनके समर्थकों का मनोबल भी बढ़ाया जाए और प्रियंका गांधी की भी अलग से रैली होगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

यदि इसी रणनीति से पार्टी यदि चलती रही और अपने दम पर उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव लड़ती है तो सत्ता में आने से भले ही उसे दूर रहना पड़े, लेकिन चौंकाने वाले परिणाम देने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है.

Loading...