बंगलौर | दुनिया भर के अन्दर ऑनलाइन शौपिंग करने का क्रेज लगातार बढ़ता जा रहा है. इसी वजह से ऑनलाइन सामान बेचने वाली वेबसाइटों की भी भरमार हो गयी है. बढती प्रतिस्पर्धा के कारण पुरानी शौपिंग वेबसाइट अपनी जड़े बचाने के लिए रोज नए नए ऑफर लेकर आ रही है. लेकिन फिर भी कुछ शौपिंग वेबसाइट की हालत खस्ता होती जा रही है.

भारत की सबसे बड़ी ऑनलाइन शौपिंग वेबसाइट में से एक स्नेपडील एक समय अच्छा खासा बिज़नस कर रही थी. स्नेपडील लगातार फ्लिप्कार्ट और अमेज़न जैसी दिग्गज शोपिंग वेबसाइट को टक्कर दे रही थी. उनकी इस सफलता के पीछे बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान का भी हाथ माना जा रहा था. उस समय आमिर स्नेपडील के ब्रांड एम्बेसेदोर बनाए गए थे और वो टीवी पर स्नेपडील के विज्ञापन में भी नजर आते थे.

लेकिन आमिर खाने के इनटॉलरेंस पर दिए गए बयान की वजह से वो एक खास पार्टी के निशाने पर आ गए. आमिर खान के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान चलाया गया और स्नेपडील का बहिष्कार करने आह्वाहन किया गया. जिसकी वजह से स्नेपडील पर दबाव बना और उन्होंने आमिर खान को कंपनी के ब्रांड एम्बेसेडर पद से हटा दिया गया. अभी हाल ही में इसके बारे में खुलासा करते हुए बीजेपी की आईटी सेल की एक सदस्य ने बताया की हमें आमिर खान के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान चलाने का आर्डर मिला था.

अब खबर है की स्नेपडील बहुत बुरे दौर से गुजर रही है. काफी जद्दोजहद के बाद भी स्नेपडील ग्राहकों को आकर्षित करने में सफल नही हो पा रही है. इसलिए अपनी माली हालत सुधारने के लिए स्नेपडील ने अपनी सहयोगी कंपनियों को बेचने का फैसला किया है. खबर है की स्नेपडील , अपनी मोबाइल वॉलेट कंपनी, फ्रीचार्ज को बेचने का मन बना रही है. इसके लिए पेटीएम् और पेयु से बात भी चल रही है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें