झारखंड मॉब लिन्चिंग मामले में SIT का गठन, 11 आरोपी गिरफ्तार, 2 पुलिसकर्मी निलंबित

10:15 am Published by:-Hindi News

सरायकेला: झारखंड के कोल्हान प्रमंडल क्षेत्र में कथित चोरी के आरोप में 24 साल के तबरेज़ अंसारी की पिटाई के बाद हुई मौत के मामले में पुलिस ने 11 लोगों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने 22 जून को ही नामजद अभियुक्त पप्पू मंडल को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था जबकि बाद में 10 लोगों की गिरफ्तारी हुई।  वहीं, मामले की जांच के लिए एसआईटी का भी गठन कर दिया गया है।

स संबंध में जानकारी देते हुए एसपी एस कार्तिक ने बताया कि मामले में पप्पु मंडल उर्फ प्रकाश मंडल सहित 11 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जबकि, पुलिस की छापेमारी जारी है। पुलिस द्वारा घटना में शामिल लोगों की पहचान कर ली गयी है। उन्होने कहा, तबरेज अंसारी की पिटाई व मौत के मामले पर वायरल वीडियो की जांच किया जा रहा है। वीडियो डबिंग हैं कि सत्य है इस पर गहनता से जांच की जा रही है इसके लिए पुलिसिया जांच शुरू कर दी गयी है।

मामले पर सीनी ओपी प्रभारी विपिन बिहारी सिंह व खरसावां थाना प्रभारी चंद्रमणी उरांव को कार्य में लापरवाही व वरीय पदाधिकारियों सहित समय पर सूचना नहीं देने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि 17 जून की रात में खरसावां के क़दमडीहा निवासी तबरेज़ को कुछ लोगों ने खंभे में बांधकर बेदर्दी से पीटा थे। इस दौरान उससे नाम पूछ कर ‘जय श्री राम’ और ‘जय हनुमान’ के नारे भी लगवाए गए।

तबरेज के पत्नी शाइस्ता परवीन ने पुलिस को अपनी शिकातय में कहा है कि 17 जून को उसके पति जमशेदपुर जा रहे थे, उसी दौरान धातकीडीह गांव में पप्पू मंडल और उनके लोगों ने उनके साथ मारपीट की। तबरेज के पत्नी का कहना है कि उनलोगों ने रात भर उनके पति को बिजली के खंंभे में बांधकर रखा गया। इस दौरान उनसे जबरन जय श्री राम और जय हनुमान का नारा भी लगवाया गया। शाइस्ता परवीन ने शिकायत मेंकहा कि रातभर मारपीट किए जाने के बाद सुबह उनके पति को सरायकेला जेल भेज दिया गया। तबरेज़ की शादी इसी साल 27 अप्रैल को हुई थी।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें