11222

मुंबई में रविवार को 30 हज़ार किसान पहुंचे. यह किसान 6 मार्च को अपनी मांगों को लेकर नासिक से मुंबई के लिए निकले थे. सभी किसान यहाँ आज़ाद मैदान में जमा हुए. आपको बता दें कि इन किसानों के साथ महिलाएं और बुजुर्ग भी शामिल हैं. आज किसान आज़ाद मैदान से विधानसभा का घिराव करेंगे.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, यूं इस तरह सड़कों पर इकठ्ठा हुए किसानों की कुछ मांगे है जिन्हें पूरा करने के लिए यह विशाल प्रदर्शन किया जा रहा है. आपको बता दें कि, किसानों की मांग है कि सरकार इनके लोन माफ करे, क्योंकि बैंकों से लिया कर्ज किसानों के लिए बोझ बन चुका है. मौसम के बदलने से हर साल फसलें तबाह हो रही है. ऐसे में किसान चाहते हैं कि उन्हें कर्ज से आजादी मिले.

सिख समुदाय भी आया मदद के लिए सामने

भूखे प्यासे किसानों की मदद के लिए सिख समुदाय सामने आया और किसानों के लिए खाने का इंतज़ाम किया. उन्होंने भूखे किसानों को भोजन बांटा. ताकि आंदिलनकारी किसान भूखे ना रह सकें. किसानों की मदद के लिए सिख  लोगों ने उनके लिए खाने-पीने की काफी सारी चीज़ लेकर आये ताकि भूख की वजह से किसानों की तबियत खराब ना हो जाये.

11122

साथ ही मुस्लिम और सिख लोगों ने एक साथ मिलकर किसानों के हाथों-पैरों को साफ़ भी किया. दोनों समुदायों के लोगों ने किसानों के विशाल आंदोलन में उनके साथ रहने का वादा भी किया.

आपको बता दें कि, पैदल नासिक से मुंबई आते वक्त 5 किसानों की तबीयत बिगड़ गई थी, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था. इलाज के बाद किसानों को छुट्टी दे दी गई है. आपको बता दें कि, इन किसानों को पानी की कमी और ब्लड प्रेशर होने की शिकायत के बाद अस्पताल ले जाया गया था.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें