Tuesday, December 7, 2021

लैपटॉप नहीं मिलने पर श्रीराम कॉलेज की छात्रा ने की खुदकुशी, राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरा

- Advertisement -

लॉकडाउन के कारण बंद हुए स्कूल और कॉलेज को लेकर छात्रों को ऑनलाइन शिक्षा हासिल करनी पड़ रही है। लेकिन संसाधनो के अभाव में कोई छात्र ऑनलाइन शिक्षा से भी वंचित है। इसी बीच दिल्ली के प्रतिष्ठित श्रीराम कॉलेज की 19 साल की छात्रा ऐश्वर्या रेड्डी की खुदखुशी का मामला सामने आया है।

लेडी श्रीराम कॉलेज फॉर वुमन की द्वितीय वर्ष की छात्रा ने पिछले सप्ताह तेलंगाना में अपने गृहनगर में खुदकुशी कर ली। मृतका के पिता ने कहा कि वह आईएएस बनना चाहती थी, लेकिन परिवार महामारी के दौरान ऑनलाइन कक्षाओं में पढ़ाई के लिए अपनी बेटी को सेकेंड हैंड लैपटॉप दिला पाने में असमर्थ था।

पुलिस के अनुसार, 19 वर्षीय छात्रा ने कक्षा 12 में 98.5 प्रतिशत स्कोर किया था। उन्होंने तेलुगु में लिखे सुसाइड नोट में कहा,“मेरे कारण, मेरा परिवार कई वित्तीय समस्याओं का सामना कर रहा है। मैं अपने परिवार के लिए बोझ हूं। मेरी शिक्षा एक बोझ है। यदि मैं अध्ययन नहीं कर सकती, तो मैं जीवित नहीं रह सकती। “

अब इस मामले को लेकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया है। राहुल गांधी ने लिखा कि जानबूझकर की गयी नोटबंदी और देशबंदी से भाजपा सरकार ने अनगिनत घर उजाड़ दिए। यही सच्चाई है।

बता दें कि छात्रा ने अभिनेता सोनू सूद को भी सहायता के लिए मेल किया था। ऐश्वर्या ने उन्हें 14 सितंबर को एक ईमेल लिखा था, प्रमाण के रूप में उनके प्रमाण पत्र संलग्न किए। उन्होंने लिखा, “मेरे पास लैपटॉप नहीं है और मैं व्यावहारिक पेपर नहीं दे पा रही हूँ। मुझे डर है कि मैं इन पेपर्स में फेल हो सकती हूं। हमारा परिवार पूरी तरह से कर्ज में है इसलिए लैपटॉप खरीदने का कोई तरीका नहीं है … मुझे यकीन नहीं है कि मैं अपना स्नातक पूरा कर पाउंगी या नहीं। “

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles