paga

रविवार को देसी बम बरामदगी केस में महाराष्ट्र एटीएस ने सनातन आतंकियों के बाद अब शिवसेना के चालीस वर्षीय पार्षद श्रीकांत पांगारकर को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने इससे पहले वैभव राउत, शरद कलसकर और सुधान्वा को गिरफ्तार किया था। वैभव राउत के घर कई देसी बम और हथियार बनाने की सामग्री मिली थी। इतना ही नहीं आतंकियों से चार एयर पिस्टल्स, 20 एयर पिस्टल पैलेट्स, दो सीपीयू, दो नोटबुक, एक डायरी, तीन मोबाइल और दो सिमकार्ड बरामद किए थे।

पंगारकर हिंदू जनजागृति समिति का पदाधिकारी है। शनिवार की रात पुणे से औरंगाबाद के सचिन अंदुरे को हिरासत में लेकर सीबीआई ने पूछताछ की थी। पूछताछ में सचिन ने पंगारकर का नाम लिया था। सचिन को सीबीआई कोर्ट ने 26 अगस्त तक पुलिस हिरासत में भेज दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

sanatan feature vaibhav 600x338

कर्नाटक एसआईटी के सूत्रों के अनुसार, ये वही व्यक्ति है जो नरेंद्र दोभालकर , गोविंद पंसारे, कलबुर्गी और गौरी लंकेश की हत्याओं में शामिल था।

एटीएस अधिकारी ने जानकारी दी कि पंगारकर को विस्फोटक पदार्थ और गैर कानूनी गतिविधि अधिनियम के तहत गिरफ्तार किया गया है।

Loading...