Friday, July 30, 2021

 

 

 

साक्षी महाराज के कब्रिस्तान वाले बयान के खिलाफ शहजाद पूनावाला की चुनाव आयोग से शिकायत

- Advertisement -
- Advertisement -

कांग्रेस नेता शहजाद पूनावाला ने यूपी के उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज की चुनाव आयोग सहित राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग में शिकायत की हैं. उन्होंने सांसद साक्षी महाराज के खिलाफ ये शिकायत उनके मुस्लिम समुदाय के खिलाफ दिए गए विवादित बयान को लेकर की गई हैं.

शहजाद पूनावाला ने साक्षी महाराज पर कारवाई की मांग करते हुए कहा कि उनका बयान भारतीय दंड संहिता, 1860 की विभिन्न धाराओं का उल्लंघन हैं. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सांप्रदायिक बयानों के जरिये मतदाताओं का ध्रुवीकरण करना चाहती हैं. इसी उद्देश्य से इस तरह के भडकाऊ बयान दिए जा रहे हैं. उन्होंने अपनी शिकायत में कहा कि उनका ये बयान आचार संहिता सहित हाल ही में माननीय उच्चतम न्यायालय के आदेश जिसमे धर्म के नाम पर राजनेताओं पर वोट मांगने पर रोक लगाई का उल्लंघन हैं.

कांग्रेस नेता ने कि उनका बयान भारतीय दंड संहिता 1860 की धारा 153, 153A, 153B, 505 का खुला उल्लंघन हैं. उन्होंने ये बयान जानबूझकर और दुर्भावनापूर्ण तरीके से दो समुदायों के बीच नफरत भड़काने के लिए दिया हैं. उनका ये बयान विशेषकर मुसलमानों और ईसाइयों के खिलाफ हैं जो अपने मृतकों को दफनाते हैं. उन्होंने निर्वाचन आयोग से जन प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 और आदर्श आचार संहिता के विभिन्न प्रावधानों के तहत कारवाई की मांग की हैं.

गौरतलब रहें कि साक्षी महाराज ने देश में कब्रिस्तानों का विरोध करते हुए कहा कि मुसलमानों को देश में कब्रिस्तान ही नही बनाने देना चाहिए. उनका भी हिन्दुओं की तरह दाह संस्कार करना चाहिए.

उन्होंने कहा, कब्रिस्तान से जगह की बर्बादी होती है इस लिए मुसलमानों को अंतिम संस्कार के रूप में जलाना चाहिए. चाहे नाम कब्रिस्तान हो या श्मशान हो, दाह होना चाहिए. किसी को गाड़ने की आवश्यकता नहीं है. पांच करोड़ साधू हैं सबकी समाधि लगे तो कितनी जमीन जाएगी. 20 करोड़ मुस्लिम हैं सबको कब्र चाहिए इसके लिए हिंदुस्तान में जगह कहां मिलेगी.

साक्षी महाराज ने कहा, ‘‘मैं मोदी से निवेदन करना चाहता हूँ कि श्मशान एक हो, वही श्मशान जन्नत तक ले जाए, वही श्मशान मोक्ष द्वार तक ले जाए.” उन्होंने कहा कि राजनीतिक लोग बाहर हिन्दू, मुसलमान, सिख, ईसाई को इकठ्ठा नहीं होने देते लेकिन श्मशान में तो इकठ्ठा होने दें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles