नई दिल्लीः जवाहर लाल विश्वविद्यालय (JNU) की पूर्व छात्र नेता शेहला रशीद पर उनके पिता अब्दुल रशीद शोरा ने गंभीर आरोप लगाते हुए उन्हे देशद्रोही बताया। उन्होने ये भी कहा कि शहला को देश के खिलाफ काम करने के लिए अमेरिका से फंडिंग मिलती है।

अब्दुल राशिद शोरा (Abdul Rashid Shora) ने जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के डीजीपी को पत्र लिखकर कहा, उहे अपनी बेटी से उन्हें जान का खतरा है। पिता का आरोप है कि शहला, देश विरोधी गतिविधियों में शामिल है और उसका आतंकियों के साथ कनेक्शन है।

उन्होने कहा, ‘जेनयू में नारा और ये सब फंड का ही खेल है। रशीद इंजिनियर को लेक्चर दिलवाने की क्या जरूरत थी? उन्होंने मुझे 3 करोड़ देने को कहा था कि बेटी को पार्टी जॉइन करवा दो लेकिन मैंने इनकार कर दिया। शहला के एनजीओ की भी जांच होनी चाहिए। कानूनी दस्तावेजों में दिखा रहा है कि ये बेरोजगार है। मैंने तीन साल समझाया कि यहां से निकलना पड़ेगा। इन्होंने मुझे धमकी दे दी तो मैं भागा-भागा जम्मू आया।’

अपने पिता के आरोपों के बाद शेहला ने कश्मीर से ट्वीट किया और कहा- मेरे पिता झूठ बोल रहे हैं। वह मेरी मां को मारते-पीटते हैं। उनके खिलाफ हम शिकायत भी दर्ज करवा चुके हैं। वहीं, शेहला के पिता का कहना है कि उन्हें धमकी मिली है और इसी कारण वह कश्मीर से जम्मू आए हैं।

शहला ने एक वेलफेयर कमिटी का लेटर भी ट्वीट किया। इसमें अब्दुल रशीद को सलाह दी गई है के परिवार के साथ अच्छा व्यवहार करें। शहला ने कहा कि यह परिवार का मामला है और लंबे समय से चल रहा है। मोहल्ला कमिटी ने 2005 में हमारे परिवार के लिए यह पत्र लिखा था।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano