चेन्नई | तमिलनाडु से बेहद चौकाने वाली खबर आ रही है. एक अंग्रेजी अख़बार के मुताबिक AIADMK की मुखिया शशिकला , पनीरसेलवम को हटाकर तमिलनाडु की मुख्यमंत्री बन सकती है. इस बात को बल देते हुए शशिकला ने कल पार्टी के सभी विधायको की बैठक बुलायी है. इस बात का पूरा अंदेशा है की कल की बैठक में शशिकला को विधायक दल का नेता चुन लिया जाए.

अंग्रेजी अख़बार ‘इंडियन एक्सप्रेस’ में छपी खबर के अनुसार बीते शुक्रवार को सरकार के मुख्य सचिव बालाकृष्णन को उनके पद से हटा दिया गया. अख़बार के अनुसार , शशिकला के कहने पर यह कार्यवाही की गयी. बालाकृष्णन को जयललिता का सबसे पसंदीदा अधिकारी माना जाता था. उन्हें 2014 में जयललिता ने मुख्य सचिव के पद पर तैनात किया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

शशिकला के बालकृष्णन को हटाने के बाद, इस बात के कयास लगाए जाने लगे की कुछ दिनों में पनीरसेलवम को मुख्यमंत्री पद से भी हटाया जा सकता है. AIADMK के एक वरिष्ठ नेता ने बताया की शशिकला के पार्टी प्रमुख बनने के बाद , तमिलनाडु सरकार में काफी बदलाव देखने को मिल रहा है. शशिकला , पनीरसेलवम और जयललिता के करीबियों को धीरे धीरे किनारे कर रही है और अपने करीबियों को सरकार में अहम् पद पर बैठा रही है.

खबर है की शशिकला , अपने पति एम् नटराजन की सलाह पर काम कर रही है. वो शशिकला के राजनितिक सलाहकार के रूप में काम कर रहे है. नटराजन इससे पहले जयललिता के भी राजनितिक सलाहकार रह चुके है लेकिन किसी मतभेद की वजह से जयललिता ने उनको पार्टी से ही निकाल दिया था. उनके निधन के बाद नटराजन एक बार फिर तमिलनाडु की राजनीती में सक्रीय हो गए.

पार्टी के एक नेता के अनुसार मुख्यमंत्री पनीरसेलवम भी यह नही चाहते की पार्टी में सत्ता के दो केंद्र बने इसलिए वो शशिकला के सभी फैसलों को स्वीकार कर रहे है. अब खबर है की शशिकला ने पनीरसेलवम को मुख्यमंत्री पद से हटाने का फैसला करते हुए खुद यह पद सँभालने का निर्णय लिया है. इसके लिए कल विधायको की बैठक बुलायी गयी है.

Loading...