बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा बीजेपी के साथ गठबंधन करने को लेकर पार्टी के वरिष्ट नेता शरद यादव ने बगावती तेवर अपनाए हुए है. वे खुले-रूप से नीतीश की आलोचना कर पार्टी के लिए मुसीबत पैदा कर रहे है.

इसी बीच शरद यादव को जान से मारने की धमकी दी गई है. ये धमकी के गुमनाम पत्र के जरिए दी गई. जिसमे उन्हें नीतीश सरकार के खिलाफ बोलने पर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई.

पत्र में कहा गया, वह बिहार सरकार तथा हिंदू हितों के खिलाफ न बोलें अन्यथा उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा. उन्होंने ‘‘राष्ट्र विरोधी’’ ताकतों का पक्ष लेकर बड़ी भूल की है.

ये पत्र शरद यादव के आवास पर डाक के जरिए मिला है. इस सबंध में गृह मंत्रालय को जानकारी दे दी गई है. पुलिस ने मामले की जाँच शुरु कर दी.

ध्यान रहे महागठबंधन से जेडीयु का नाता टूटने के बाद भी शरद यादव महागठबंधन से जुड़े हुए है. साथ ही वे जेडीयू-बीजेपी गठबंधन के खिलाफ मौर्चा संभाले हुए है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?