Sunday, August 1, 2021

 

 

 

शांतिकुंज आश्रम के प्रमुख डॉ. प्रणव पांड्या पर बलात्कार का आरोप, दिल्ली में FIR दर्ज

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली. शांतिकुंज आश्रम (Shantikunj aashram) हरिद्वार के प्रमुख डॉ. प्रणव पांड्या पर बलात्कार का मामला दर्ज किया गया है। छत्तीसगढ़ के रायपुर की रहने वाली एक लड़की ने दिल्ली के विवेक विहार थाने में एफआईआर दर्ज कराई है।  एफआईआर में पांड्या की पत्नी को भी नामजद किया गया है।

पीड़िता द्वारा दर्ज़ बयान कहा गया है कि मैं साल 2010 में जब वह 14 साल की थी तो 19 मार्च 2010 को गांव के एक व्यक्ति के संग हरिद्वार पहुंची। जहां शांतिकुंज गायत्री परिवार में अच्छा भोजन, साधना, पढ़ाई और शादी का बहाना देकर चौके में भोजन व्यवस्था का काम दिलाया गया।

दो दिन बाद से उसे भोजन और प्रसाद बनाने के लिए रखा गया था। जुलाई 2010 को वह शांतिकुंज के प्रमुख को कॉफी देने कमरे में गई। उसने कहा कि उसी दौरान उसके साथ रेप हुआ। पीड़िता ने बताया कि इस घटना के एक सप्ताह बाद फिर उसके साथ दोबारा रेप किया गया और जान की धमकी देकर चुप रहने को कहा गया था।

एफआईआर पर प्रणव पंड्या का कहना है कि यह उनके खिलाफ एक साजिश का हिस्सा है। जिस व्यक्ति ने यह शिकायत की है वह उनके अनुसार शांतिकुंज में रहता है और अपनी पत्नी को भी उनके खिलाफ इस्तेमाल कर ब्लैकमेल करता रहता है।

उन्होंने कहा कि वह 17 मई को लॉकडाउन समाप्त होने के बाद उस व्यक्ति को शांतिकुज से निकालने का मन बना रहे हैं । उनका कहना है कि लॉकडाउन के दौरान निकालना उचित नहीं है। उनका कहना है कि वह कानूनी ढंग से पूरी लड़ाई लडेंगे।

वहीं गायत्री परिवार ने भी प्रणव पांड्या पर लगे आरोपों को गलत बताया है। गायत्री परिवार की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि ये आरोप 16 करोड़ भक्तों की भावनाओं को आहत करने की एक नाकाम कोशिश है और किसी बड़ी साजिश का हिस्सा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles