मंगलवार को संसद के बजट सत्र शुरू होते ही पूर्व केंद्रीय मंत्री ई अहमद की तबीयत खराब हो गई. जिसके कारण वे अचानक कुर्सी से गिर कर बेहोश हो गए. न्यूज एजेंसी पीटीआई ने दिल्‍ली के राममनोहर लोहिया अस्‍पताल के सूत्रों के हवाले से खबर दी हैं कि उन्‍हें दिल का दौरा पड़ा है. उनकी हालत गंभीर बताई जा रही हैं.

दरअसल, इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (आईयूएमएल) के अध्यक्ष 78 वर्षीय अहमद ने बेचैनी और सांस लेने में दिक्कत होने की शिकायत की. जिसके बाद संसद कर्मियों ने उन्हें प्राथमिक चिकित्सा देने का प्रयास किया, लेकिन जब उनकी परेशानी जारी रही तो उन्हें राम मनोहर लोहिया अस्पताल पहुंचाया गया.

इस बीच, कांग्रेस नेता राहुल गांधी सबसे पहले उनका हालचाल जानने के लिए हॉस्पिटल गए. राहुल गांधी के बाद केरल के सापीएम और कांग्रेस के कई सांसद अस्पताल में ई अहमद की तबीयत का जायजा लेने आए. भारत सरकार की ओर से ई अहमद का हालचाल लेने प्रधानमंत्री कार्यालय के मंत्री जितेंद्र सिंह और विदेश राज्य मंत्री एम जे अकबर भी आरएमएल अस्पताल पहुंचे. जितेंद्र सिंह के मुताबिक अहमद की हालत नाजुक है. फिलहाल उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है.

ई अहमद केरल से सांसद हैं. मनमोहन सिंह की सरकार में वे विदेश राज्यमंत्री थे. वे इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के नेशनल प्रेसिडेंट हैं.2004 से लेकर 2009 तक वे मनमोहन सरकार में विदेश राज्यमंत्री रह चुके हैं. वहीं 2009 से 2011 तक वे रेल राज्यमंत्री भी रह चुके हैं. उन्होंने ह्यूमन रिसोर्स मंत्री के तौर पर भी काम किया है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें