Saturday, October 23, 2021

 

 

 

वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा हुए गिरफ्तार, विपक्ष ने बताया – प्रेस की आजादी पर बड़ा हमला

- Advertisement -
- Advertisement -

verma

वरिष्ठ पत्रकार विनोद वर्मा को गुरुवार देर रात ग़ाज़ियाबाद स्थित उनके घर से गिरफ्तार किया गया है. ये कार्रवाई छत्तीसगढ़ पुलिस ने की है. पिछले कई घंटों से इंदिरापुरम थाने में उनसे पूछताछ की जा रही है.

एडिटर गिल्ट के सदस्य विनोद वर्मा के पास से पुलिस ने 500 सीडी और 2 लाख नकदी कैश बरामद किए हैं. पुलिस ने इन्हें 384 और 506 आईपीसी की धारा के तहत गिरफ्तार किया है. उनकी ये गिरफ्तारी छत्तीसगढ़ के बड़े नेता की सीडी से जुड़ी बताई जा रही है.

बीसी संवाददाता सरोज सिंह ने पुलिस सूत्रों के हवाले से बताया है कि विनोद वर्मा के ख़िलाफ़ छत्तीसगढ़ के रायपुर स्थित पंडरी थाने में मामला दर्ज हुआ था. विनोद वर्मा बीबीसी के पूर्व पत्रकार रहे हैं. वह अमर उजाला के डिजिटल एडिटर भी रहे हैं.

वर्मा की गिरफ्तारी पर कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश सिंह बघेल ने कहा कि विनोद वर्मा के पास छत्तीसगढ़ के एक रसूखदार मंत्री की सीडी थी. मंत्री एक लड़की के साथ आपत्तिजनक अवस्था में नजर आ रहे थे.

उन्होंने कहा कि यह सीडी सबके पास थी, ऐसे में विनोद वर्मा की गिरफ्तारी निंदनीय है. उन्होंने कहा, वो सीडी मेरे पास भी है. इस तरह से किसी के घर से गिरफ्तारी कर लेना गलत है. वहीँ पूर्व पत्रकार और आप के सीनियर नेता आशुतोष ने इस गिरफ्तारी को प्रेस की आजादी पर हमला बताया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles