सऊदी अरामको और रिलायंस इंडस्ट्रीज के बीच हुआ 1 लाख करोड़ रू का बड़ा सौदा

11:15 am Published by:-Hindi News

मुंबई. रिलायंस इंडस्ट्रीज के ऑयल रिफाइनरी और केमिकल बिजनेस में सऊदी अरामको 15 अरब डॉलर (1.06 लाख करोड़ रुपए) में 20% हिस्सेदारी खरीदेगी।कंपनी के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने सोमवार को यहां आरआईएल की 42वीं वार्षिक आम सभा में यह बात कही।

इसके अलावा कंपनी ने पेट्रोलियम ईंधन के अपने खुदरा कारोबार की 49 प्रतिशत हिस्सेदारी ब्रिटेन की कंपनी बीपी को बेचने की भी घोषणा की। इस सौदे में कंपनी को 7,000 करोड़ रुपये मिलेंगे। अंबानी ने कहा कि 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिए सऊदी अरामको के साथ समझौता हो चुका है। इस सौदे के लिए कंपनी के तेल और पेट्रोरसायन कारोबार का मूल्य 75 अरब डॉलर आंका गया है।

उन्होंने कहा, ‘‘ यह न केवल रिलायंस के इतिहास में सबसे बड़ा प्रत्यक्ष विदेशी निवेश होगा बल्कि इसकी गिनती देश के सबसे बड़े विदेशी निवेश के सौदों में होगी।’’ अंबानी ने कहा कि इस सौदे में रिलायंस की सभी रिफाइनरी और पेट्रोरसायन परिसंपत्तियां को रखा गया है।

cro

अंबानी ने कहा कि समझौते के तहत दीर्घावधि के लिए अरामको रिलायंस की गुजरात के जामनगर स्थित दोनों रिफाइनरियों को प्रतिदिन 7,00,000 बैरल कच्चे तेल की आपूर्ति भी करेगा। अरामको दुनिया की सबसे बड़ी कच्चा तेल निर्यातक कंपनी है। उन्होंने कहा कि इस सौदे पर अभी नियामकीय अनुमतियां मिलना बाकी है।

अरामको और बीपी के साथ डील से मिलने वाली रकम से रिलायंस को कर्ज कम करने में मदद मिलेगी। रिलायंस समूह पर 1 लाख 54 हजार 478 करोड़ रुपए का कर्ज है। एजीएम में मुकेश अंबानी ने कहा कि 18 महीने में रिलायंस को कर्ज मुक्त कंपनी बनाने का लक्ष्य है।

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें