जोधपुर | चिंकारा शिकार मामले में अवैध हथियारों का इस्तेमाल करने का आरोप झले रहे अभिनेता सलमान खान के लिए आज का दिन बेहद राहत की खबर लेकर आया. जोधपुर की एक अदालत ने सलमान खान को अवैध हथियार रखने के आरोप में संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया. फैसला आने से पहले सलमान खान ने अदालत को डेढ़ घंटे तक इन्तजार कराया.

जोधपुर के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट का कक्ष आज सुबह से ही वकीलों और पत्रकारों से खचाखच भरा पड़ा था. सब लोग सलमान खान के आने का इन्तजार कर रहे थे. सलमान खान को सुबह साढ़े दस बजे कोर्ट में पहुंचना था लेकिन उनकी जगह सलमान की बहन अलविरा , वकीलों के साथ कोर्ट पहुंची. इस दौरान मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट दलपत सिंह राजपूत ने सलमान खान को कोर्ट में न पाकर उनके बारे में वकीलों से जानकारी ली.

मजिस्ट्रेट दलपत सिंह राजपूत ने सलमान के वकीलों को डांटते हुए कहा की अगर सलमान आध घंटे में कोर्ट में नही पहुंचे तो फिर लंच के बाद ही फैसला सुनाया जाएगा. मजिस्ट्रेट की डांट पर अलविरा ने तुरंत सलमान को फोन किया. करीब साढ़े ग्यारह बजे सलमान कोर्ट पहुंचे. इसके थोड़ी देर बाद मजिस्ट्रेट दलपत सिंह अपनी सीट पर पहुंचे.

आते ही उन्होंने सलमान से उनका नाम पूछा. सलमान ने जवाब दिया, सलमान खान. इसके बाद न्यायिक मजिस्ट्रेट ने सलमान के पक्ष में फैसला सुनाते हुए उन्हें बरी करने का आदेश दिया. फैसला सुनते समय अलविरा और सलमान के चेहरे पर तनाव साफ़ देखा जा सकता था. सलमान केवल सात मिनट कोर्ट रूम में रुके. इस दौरान उन्होंने कई वकीलों को ऑटोग्राफ भी दिया. इसके बाद सलमान खान कोर्ट से अलविरा के साथ रवाना हो गए.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें