sachin

sachin

गुरुवार को राज्‍यसभा की कार्रवाई में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे सचिन तेंदुलकर सदन में हंगामे के चलते कुछ नहीं बोल पाए.

दरअसल पूर्व पीएम मनमोहन सिंह पर टिप्‍पणी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी की मांग पर अड़े विपक्ष ने आज भी सदन की कार्रवाई को चलने नहीं दिया. गामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही को कल तक के लिए स्थगित कर दिया गया है.

2012 में सांसद मनोनीत होने के बाद सचिन तेंदुलकर का राज्यसभा में ये पहला भाषण था. अक्सर राज्यसभा की कार्रवाई में शामिल नहीं होने पर सचिन की आलोचना होती रहती है. उन्होंने आज तक संसद में कोई भी सवाल नहीं किया.

इस घटना पर सांसद जय बच्चन ने नाराजगी जताई है. जया बच्चन ने पूछा कि संसद में बोलने की आजादी क्या केवल नेताओं की है? राज्यसभा सांसद ने कहा कि सचिन को बोलने नहीं देना शर्म की बात है.

उन्होंने कहा, कहा, ‘सचिन तेंदुलकर ने दुनिया भर में भारत के लिए नाम कमाया है. यह जानते हुए कि आज के एजेंडा में सचिन का नाम था और उन्हें बोलने नहीं दिया गया. यह शर्म की बात है. क्या केवल राजनीतिज्ञों को ही संसद में बोलने दिया जाएगा? सचिन के साथ यदि इस तरह का बर्ताव होगा तो वह सदन में क्यों आएंगे?’

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?