नई दिल्ली हाल ही में जैश-ए-मुहम्मद से सबंध रखने के आरोप में दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार किये गए मुस्लिम लड़कों को सबूतों के अभाव में छोड़े जाने के बाद बरेलवी मसलक के मौलाना तौक़ीर अहमद रजा देवबंद स्थित शाकिर के घर पहुंचे. शाकिर भी दिल्ली पुलिस द्वारा गिरफ्तार लडको में शामिल था.

इसी दौरान उन्होंने दारुल उलूम देवबंद के मुफ़्ती अब्दुल कासिम नोमानी से भी मुलाकात की. दिल्ली पुलिस द्वारा की गई गिरफ़्तारी को उन्होंने RSS की साजिश बताया. उन्होंने कहा कि ख़ुफ़िया एजेन्सी RSS के इशारो पर काम कर रही हैं. चाहे दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल हो या एनआईए ये मुसलमानों के खिलाफ पक्षपाती रवैय्या अपनाती रही हैं.

शाकिर अंसारी की गिरफ़्तारी पर उन्होंने कहा कि शाकिर का क्या कसूर था ? गिरफ्तारी के समय ठोस सबूत को दिखाया जाना था. उन्होंने सभी मुसलमानों से अपील करते हुए कहा कि अब मुसलमानों को आपसी मतभेद भुलाकर एक हो जाना चाहिए.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?