जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) की और से एक बार फिर देश में आरक्षण व्यवस्था को खत्म करने की मांग उठी हैं.

आरएसएस के प्रचार प्रमुख मनमोहन वैद्य ने कहा कि आरक्षण खत्म होना चाहिए. उन्होंने कहा कि आरक्षण से अलगाववाद बढ़ता है. उन्होंने कहा कि एक वक्त के बाद आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए. उन्होंने आगे कहा, सबको सामान अधिकार और सामान शिक्षा मिलनी चाहिए, इसलिए एक वक्त के बाद आरक्षण को खत्म कर देना चाहिए.

वैद्य ने आरक्षण व्यवस्था को खत्म करने के लिए बाबा साहेब भीम राव अंबेडकर का हवाला देते हुए कहा कि अंबेडकर भी हमेशा के लिए आरक्षण के पक्ष में नहीं थे. इसलिए इसे खत्म कर देना चाहिए.

याद रहें कि बिहार चुनाव से पहले संघ प्रमुख मोहन भागवत ने भी ऐसा ही बयान दिया था. जिसके बाद काफी बवाल हुआ था. इसके बाद खुद प्रधानमंत्री मोदी को सामने आकर कहना पड़ा था कि आरक्षण कोई हाथ भी नहीं लगाएगा.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें