Friday, September 17, 2021

 

 

 

अयोध्या पर फैसले से पहले आरएसएस की मुस्लिम बुद्धिजीवियों के साथ बैठक

- Advertisement -
- Advertisement -

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसला आने में कुछ ही दिनों का वक्त बचा है। ऐसे में दोनों पक्षों की और से बैठकों का दौर जारी है। इसी बीच राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के पदाधिकारियों ने भाजपा के कुछ वरिष्ठ मुस्लिम नेताओं और मुस्लिम समाज के कई बुद्धिजीवियों के साथ बैठक की।

दिल्ली में हुई इस बैठक में RSS ने उन्हें निकट भविष्य में शांतिपूर्ण माहौल सुनिश्चित करने में सहयोग की अपील की। बैठक में इस बात पर जोर दिया गया कि ऐसा माहौल सुनिश्चित करना है कि अयोध्या पर आने वाले फैसले को सभी स्वीकार करें और देश के किसी भी हिस्से में किसी तरह से शांति भंग नहीं हो।

बैठक में आरएसएस के वरिष्ठ पदाधिकारी कृष्ण गोपाल और इंद्रेश कुमार, केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी, भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन, जफर इस्लाम तथा शाजिया इल्मी, मौलाना आजाद राष्ट्रीय उर्दू विश्वविद्यालय के कुलाधिपति फिरोज बख्त अहमद और कुछ अन्य मुस्लिम बुद्धिजीवी भी मौजूद थे।

बैठक के बाद फिरोज बख्त अहमद ने कहा, ‘मुस्लिम समुदाय की तरफ से कई बार यह कहा गया है कि जो भी फैसला आएगा उसे माना जाए। फिर भी कहीं कुछ गलत नहीं हो, इसका प्रयास किया जा रहा है।’ उनका आगे कहना था, ‘ मुस्लिम समुदाय के बुद्धिजीवियों से अपील की गई है कि वे ऐसा माहौल बनाने में मदद करें जिसमें सभी लोग अदालत के फैसले को मानें।’

इससे पहले भी आरएसएस ने ट्वीट कर कहा था, ‘’आगामी दिनों में श्रीराम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के वाद पर सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय आने की संभावना है। निर्णय जो भी आए उसे सभी को खुले मन से स्वीकार करना चाहिए। निर्णय के पश्चात देश भर में वातावरण सौहार्दपूर्ण रहे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles