Wednesday, December 1, 2021

आरएसएस की इफ्तार पार्टी का विरोध शुरू, हुआ बहिष्कार का ऐलान

- Advertisement -

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पहली बार मुंबई में इफ्तार पार्टी का आयोजन करने जा रहा है. सोमवार को होने वाली इस इफ्तार पार्टी का विरोध भी होना शुरू हो गया है. मुंबई के दो एक्टिविस्टों ने इसे रद्द करने की मांग की है.

बता दें कि सहयाद्रि गेस्ट हाउस में आयोजित होने वाली इस पार्टी में 30 इस्लामिक देशों के राजनयिकों के अलावा मुस्लिम समुदाय के 200 से ज्यादा प्रतिष्ठित लोगों को भी आमंत्रित किया गया है.

विरोध कर रहे लोगों का कहना है कि जब तक RSS अपनी एंटी मुस्लिम पॉलिसीस को छोड़ नहीं देती तब तक मुसलमानों को ऐसे आयोजन से दूर रहना चाहिए. मुस्लिम संगठनों का कहना है कि आरएसएस इफ्तार पार्टी देकर मुस्लिम वोटरों को साल 2019 के चुनाव में बीजेपी के पक्ष में करना चाहता है. जिन समूहों द्वारा इस पार्टी का बहिष्कार किया गया है.

इस आयोजन पर उंगली उठाते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष व विधायक अबू आसिम आजमी कहते हैं कि राम मंदिर के निर्माण के लिए ईंटें भेजने वाले मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की इफ्तार पार्टी एक ढोंग के सिवा कुछ नहीं। इस तरह के आयोजन की निंदा और बहिष्कार किया जाना जरूरी है।

इसके अलावा एक आरटीआई कार्यकर्ता शकील अहमद शेख न केवल इफ्तार पर बल्कि उन्होंने सरकारी अतिथिगृह में आयोजन पर भी सवाल उठाया है. साथ ही उन्होंने राज्यपाल से शिकायत भी की है। उनका कहना है कि सह्याद्री अतिथिगृह में किसी तरह का धार्मिक आयोजन नहीं किया जा सकता।

बता दें कि राज्य सरकार के (जीएडी) ने अन्य सरकारी विभागों के साथ ही सहयाद्री गेस्ट हाउस पर भी किसी निजी और धार्मिक काम ना करने के लिए आदेश दिया था। जीएडी ने एक आदेश में कहा कि मुख्यमंत्री, डीसीएम, मंत्री और राज्य मंत्री, मुख्य सचिव, अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, सचिव और समकक्ष रैंक के अधिकारियों को बैठकों, कार्यशालाओं और प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित करने के लिए इस भवन को अधिकृत किया जाएगा।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles