islam

उत्तर प्रदेश से शुरू हुआ मुस्लिम नामों वाली जगहों के नामों के बदलने का सिलसिला पश्चिम बंगाल पहुंच गया है। पश्चिम बंगाल के उत्तर दीजापुर के इस्लामपुर को आरएसएस के लोगों ने रातों रात सरकारी कागजों में दर्ज इश्वरपुर बना दिया। हैरानी वाली बात ये है कि ममता सरकार को भनक तक नहीं लगी।

जानकारी के अनुसार, रात में सोने के बाद जब लोग सुबह उठे तो देखा कि आरएसएस और वीएचपी के स्कूल दफ्तरों और गाड़ियों पर इस्लामपुर की जगह इश्वरपुर लिखा हुआ था। इसके अलावा आरएसएस द्वारा चलाए जा रहे स्कूलों सरस्वती शिशु मंदिर और सरस्वती विद्या मंदिर के बोर्डों पर भी इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिखा मिला।

इतना ही नहीं स्कूल में बच्चों को लाने ले जाने वाली कैब पर भी नाम बदलकर ईश्वरपुर लिख दिया गया है. वहीं स्कूल के सरकारी दस्तावेजों में नाम अभी भी इस्लामपुर ही है। इसके साथ ही वीएचपी दफ्तर के बोर्ड पर भी इस्लामपुर की जगह ईश्वरपुर लिख दिया गया।

बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज और फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या कर दिया। फैजाबाद और इलाहाबाद का नाम बदलने के साथ ही अब यूपी सहित देश के कई इस्लामिक रियासतों से जुड़े स्थलों के नाम बदलने की साजिश हो रही है।

जिनमे गुजरात का अहमदाबाद, महाराष्ट्र का औरंगाबाद और उस्मानाबाद, तेलंगाना का हैदराबाद और यूपी के ही आजमगढ़, संभल, मुजफ्फरनगर आदि।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें