नई दिल्ली | कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी के दामाद और मशहूर बिज़नसमैन रोबर्ट वाड्रा, नोट बंदी के बाद से प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ काफी आक्रामक है. वाड्रा कई बार मोदी सरकार को नोट बंदी के बाद से देशभर में फैली अव्यवस्था के लिए जिम्मेदार ठहरा चुके है. अब नोट बंदी खत्म हो चुकी है लेकिन लोगो को कैश मिलने में अभी भी काफी परेशानी का समाना करना पड़ रहा है.

कैश की किल्लत से झूझ रहे देश को मोदी सरकार डिजिटल ट्रांसेक्सन करने के लिए प्रोत्साहित कर रही है. इसके लिए सरकार ने कार्ड से पेमेंट करने पर कुछ इनाम देने की भी घोषणा की है. वही पेट्रोल पम्प पर कार्ड से पेमेंट करने पर भी कुछ छूट देने का एलान किया गया है. रोबर्ट वाड्रा ने अब इसी को मुद्दा बनाकर एक बार फिर मोदी सरकार पर हमला बोला है. .

रोबर्ट वाड्रा ने अपने फेसबुक पेज पर लिखा है की सरकार जानती है की नोट बंदी , बिना तैयारी किये और बिना सोचे समझे लिया गया फैसला था. इसलिए सरकार और बैंकों के बीच बिलकुल भी तालमेल नही दिखाई दे रहा. जिसका खामियाजा आम जनता को भुगतना पड़ रहा है. यह व्यवस्था की कमी है की पेट्रोल पंप वालो ने कार्ड से पेमेंट लेने से मना कर दिया है.

रोबर्ट वाड्रा आगे लिखते है की सरकार पहले लोगो को कार्ड से पेमेंट करने के लिए प्रोत्साहित करती है और जब लोग कार्ड से पेमेंट करना शुरू कर देते है तो सरकार और बैंकों की बीच तालमेल की कमी साफ़ दिखने लगी. इसलिए बैंक पेट्रोल पंप से अलग चार्ज लेने की बात कर रहे है. सरकार पेट्रोल पम्प वालो से कहती है की कार्ड से पेमेंट लो और बैंक कहते है की हम हर ट्रांसेक्सन पर चार्ज वसूलेंगे.

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano