पटना | बिहार की कानून व्यवस्था किस कदर चाक चौबंद है, इसका नजारा आज सुबह तब देखने को मिला जब एक राजद नेता की गोली मारकर हत्या कर दी गयी. मिली जानकारी के अनुसार राजद नेता को सुबह मोर्निग वाक के दौरान गोली मारी गयी. वारदात को अंजाम देने के बाद अपराधी फरार हो गए. फ़िलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आज सुबह राजद नेता और वार्ड पार्षद केदार सिंह यादव मोर्निंग वाक के लिए घर से निकले थे. तभी सगुना मोड़ के पास तीन बाइक सवारों ने उन पर ताबड़तोड़ गोलिया चला दी. इस फायरिंग में केदार को तीन गोलिया लगी. घायल अवस्था में उनको पटना के ही एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ इलाज के दौरान उनकी मौत हो गयी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

सभी अपराधी फ़िलहाल फरार है. पुलिस ने केदार के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. शुरुआती जांच में पता चला है की जमीन विवाद के कारण केदार पर हमला किया गया. फ़िलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. उधर पुलिस के साथ साथ एसआरएफ के जवान भी केदार के घर पर मौजूद है. वो उनके परिजनों से भी पूछताछ कर रहे है. बताया जा रहा है की हमला करने वाले तीन लोग थे जो एक ही बाइक पर सवार होकर आये थे.

केदार को लालू प्रसाद यादव का बेहद करीबी माना जाता है. इसलिए यह मामला राजनितिक रंग ले सकता है. विपक्ष नीतीश सरकार को कानून व्यवस्था के नाम पर कठघरे में खड़ा कर सकता है. हालाँकि अभी तक राजद की तरफ से कोई अधिकारिक प्रतिक्रिया नही आई है. बताते चले की बिहार में जंगलराज बताकर नीतीश सरकार को घेरने वाली बीजेपी के लिए आज बेहद ही असमंजस की स्थिति है. क्योकि फ़िलहाल वो नीतीश के साथ सरकार में सहयोगी है.

Loading...