Monday, January 24, 2022

घाटी में मोहर्रम के जुलूस पर पाबंदी, रोकने के लिए कर्फ्यू जैसा सख्त पहरा

- Advertisement -

श्रीनगर: बीते एक महीने से लगातार घाटी में जारी पाबंदियों में मोहर्रम के मौके पर कोई छुट नहीं दी गई, बल्कि इसके उलट मोहर्रम का जुलूस निकालने से रोकने के लिए शहर सहित कश्मीर के कई हिस्सों में रविवार को कर्फ्यू जैसी पाबंदियां लगाई दी गई।

अधिकारियों को आशंका है कि बड़े धार्मिक समागमों से हिंसा हो सकती है। अधिकारियों ने कहा कि लाल चौक के वाणिज्यिक केंद्रों और आस-पास के इलाकों को सभी प्रवेश स्थलों पर तारबंदी कर पूरी तरह से सील कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि घाटी में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए एहतियात के तौर पर कश्मीर के कई हिस्सों में पाबंदियां लगाई गई हैं।

अधिकारियों ने पाबंदियों को फिर से लगाने के लिए किसी भी कारण का हवाला नहीं दिया, लेकिन माना जाता है कि शहर और घाटी में अन्य जगहों पर मोहर्रम के जुलूस को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है। केवल आपात चिकित्सा की स्थिति में लोगों को बैरिकेड पार कर जाने की अनुमति दी जा रही है। सुरक्षा र्किमयों ने संबंधित अधिकारियों द्वारा जारी कर्फ्यू पासों पर जाने की अनुमति देने से इनकार कर दिया है।

रविवार को कश्मीर में पाबंदियों का 35वां दिन है. माना जा रहा है कि निहित स्वार्थी तत्व बड़ी मस्जिदों और धार्मिक स्थलों पर बड़े समारोहों के दौरान विरोध कर सकते हैं। इस बीच, पिछले 35 दिनों से घाटी में चल रहे बंद के कारण रविवार को भी कश्मीर में आम जनजीवन बुरी तरह से  प्रभावित रहा। अधिकारियों ने कहा कि बाजार और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे जबकि सार्वजनिक परिवहन घाटी की सड़कों से दूर रहे।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles