Sunday, August 1, 2021

 

 

 

CAA के खिलाफ पुदुचेरी विधानसभा में प्रस्ताव पास

- Advertisement -
- Advertisement -

पुदुचेरी विधानसभा में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रस्ताव पास किया गया है।इसके साथ ही पश्चिम बंगाल, केरल, पंजाब, राजस्थान और मध्य प्रदेश के बाद एंटी-सीएए प्रस्ताव को अपनाने के लिए पुडुचेरी छठा राज्य बन गया है।

विधानसभा के एक विशेष सत्र में मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने कहा कि एनआरसी और एनपीआर के साथ नागरिकता संशोधन क़ानून लागू करने कि प्रस्तावित योजना देश की एकता और धर्मनिरपेक्षता के लिए ख़’तरा है।

उन्होंने नागरिकता संशोधन क़ानून को भेदभावपूर्ण और असंवैधानिक बताया और कहा कि इसके ज़रिए केंद्र सरकार आरएसएस के हिंदू राष्ट्र के सपने को पूरा करने का रास्ता बना रही है।

इससे पहले पुदुचेरी की राज्यपाल किरण बेदी ने प्रदेश सरकार को एक पत्र लिख कर कहा था कि प्रदेश सरकार को सीएए के खिलाफ प्रस्ताव नहीं पारित करना चाहिए। उन्होने कहा था कि संसद द्वारा पारित अधिनियम केंद्र शासित प्रदेश के लिए लागू किया गया है और किसी भी तरीके से इससे छेड़छाड़ या सवाल नहीं किया जा सकता।

मुख्यमंत्री नारायणसामी ने कहा कि उनकी सरकार इस मामले में किसी से डरती नहीं, प्रधानमंत्री चाहें तो इसके लिए उनकी सरकार को बर्खास्त कर सकते हैं। प्रस्ताव तो पास हो गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles