मुस्लिमों की भावनाओं को आहत करने के लिए रिपब्लिक टीवी ने बिना शर्त मांगी माफी

अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी पर एक फर्जी खबर के जरिए मुसलमानों की भावनाओं को आहत करने का आरोप था। जिसको लेकर चेनल ने बिना शर्त माफी मांगी है। दरअसल चैनल ने जमात-ए-इस्लामी इंडिया के प्रमुख मौलाना जलालुद्दीन उमरी पर आतंकवादी होने का झूठा आरोप लगाया गया था।

इस मामले में ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड सहित कई मुस्लिम समूहों ने चैनल को पत्र लिखकर चैनल के इस कृत्य की निंदा की और तत्काल माफी की मांग की। अपने पत्र को ट्विटर पर शेयर करते हुए AIMPLB ने लिखा कि हम मौलाना जलालुद्दीन उमरी पर आतंकी होने का झूठे आरोप लगाने के लिए रिपब्लिक टीवी चैनल की कड़ी निंदा करते हैं।

जिसके बाद रिपब्लिक टीवी ने एक माफीनामा जारी की है। चैनल ने माफी मांगते हुए अपने ट्वीट में लिखा है कि मौलाना सैयद जलालुद्दीन उमरी की गलत तस्वीर रिपब्लिक टीवी पर चलाया गया। यह एक अनजाने में त्रुटि थी, वीडियो संपादक ने संबंधित तस्वीर को गलत तरीके से प्रसारित किया था, जिसे गलत तरीके से एक बार प्रसारित किया गया था और तुरंत ठीक कर दिया गया था। अपने ट्वीट में चैनल ने लिखा कि रिपब्लिक टीवी बिना शर्त मौलाना सैयद जलालुद्दीन उमरी से माफी मांगता है।

साभार: जनता का रिपोर्टर

विज्ञापन