लोकतंत्र के चौथे स्तंभ का आज सरेआम जनाज़ा ही निकल गया। जब देश की जनता ने अपशब्दों की ध्वनि से लिपटा हुआ रिपब्‍लिक और एबीपी के पत्रकारों की सरेआम मारपीट का Video को देखा। इस Video के सामने आने के बाद मीडिया और प्रेस की कड़ी आलोचना की जा रही है।

जानकारी के अनुसार, अर्नब गोस्वामी के अंग्रेजी समाचार चैनल ‘रिपब्लिक टीवी’ के रिपोर्टर प्रदीप भंडारी पर गुरुवार को मुंबई में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) कार्यालय के बाहर स्टोरी कवर कर रहे थे। इस दौरान उनके साथी पत्रकारों ने उन पर शारीरिक हमला कर दिया। Video में दिख रहा है कि प्रदीप भंडारी को एक अन्य चैनल के पत्रकार ने धक्का दिया और उन्हें थप्पड़ मारने का भी प्रयास किया।

इस दौरान मुंबई पुलिस के जवान पत्रकारों के बीच चल रही बहस को शांत करने का प्रयास कर रहे थे। प्रदीप भण्डारी ने ट्वीट कर कहा कि “जानते हैं महाराष्ट्र में सच बोलने की कीमत क्या है? कार्टेल के नामी-गिरामी चेहरे जैसे-जैसे एक्सपोज हो रहे हैं, उनका गुस्सा और बढ़ता जा रहा है। जब पुलिस से भी काम नहीं बना तो आज NDTV और ABP के गुंडे पत्रकारों को मेरे पास हाथापाई करने भेज दिया। लेकिन मैं टूटने वालों में से नहीं हूं।”

अपने एक अन्य ट्वीट में प्रदीप भंडारी ने लिखा है कि ‘धीमी आवाज में रोज रात नौ बजे आकर जो भारत जैसे महान देश में इंटॉलरन्स का रोना रोते हैं। उस से मैं पूछना चाहता हूं, इतना क्या घबरा गए एक नौजवान पत्रकार से कि अपने चैनल के गुंडे पत्रकार को मेरे खिलाफ घेराबंदी करने को बोल दिया?’

बता दें कि, अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले में जुड़े ड्रग्‍स के एंगल को लेकर नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को पूछताछ के लिए समन भेजा है। पूछताछ के लिए दीपिका पादुकोण को 25 सितंबर को बुलाया गया है जबकि श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को 26 सितंबर को बुलाया गया है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano