Friday, September 17, 2021

 

 

 

मेजर गोगोई के खिलाफ जांच में लापरवाही, कोर्ट ने की रिपोर्ट तलब

- Advertisement -
- Advertisement -

श्रीनगर की एक अदालत ने होटल में कथित तौर पर नाबालिग लड़की के साथ पाये जाने के मामले में सेना के अधिकारी मेजर लीतुल गोगोई के चल रही जांच में लापरवाही सामने आने के बाद जांच रिपोर्ट तलब की है।

स्थानीय अदालत ने शनिवार को राज्य पुलिस को एक स्थानीय महिला के साथ उनकी कथित दोस्ती के मामले की गहन जांच करने और 18 सितंबर तक अदालत में रिपोर्ट जमा कराने का निर्देश दिया है।

इंटरनेशनल फोरम फॉर जस्टिस एंड ह्यूमन राइट्स (आईएफजेएचआर) के अध्यक्ष मोहम्मद अहसन उन्टू द्वारा दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सीजेएम ने अपने आदेश में कहा, आवेदन के सार और संबंधित थाने द्वारा सौंपी गई रिपोर्ट को ध्यान में रखते हुए मेरी राय है कि मामले में और जांच की जरूरत है।

gog

सीजेएम ने कहा, पुलिस ने मामले की जांच करने के बजाय उसे निपटाने पर जोर दिया है। सभी तथ्यों को जांच में शामिल नहीं किया गया है। मेजर गोगोई और महिला के साथ पकड़े गए समीर मल्ला नामक सैन्यकर्मी की भूमिका की जांच नहीं हुई है। वह क्यों मेजर गोगोई और महिला के साथ होटल तक आया था। इसके अलावा मेजर गोगोई ने फेसबुक पर एक फर्जी एकाउंट उबैद अरमानी के नाम से बनाया था, इसकी जांच भी संबंधित आइटी अधिनियम के दायरे में होनी चाहिए।

बता दें कि मेजर गोगोई आरोप है कि वह 23 मई को श्रीनगर के खनयार इलाके में स्थित होटल में एक नाबालिग लड़की के साथ रात बिताना चाहते थे। लेकिन होटल ने इजाजत नहीं दी। जिसके बाद उनकी होटल कर्मचारियों के साथ हाथापाई भी हुई थी।

इस मामले में अहसन उन्टू का कहना है कि मेजर महिला को जबरन अपने साथ लाया था। पुलिस को इस मामले की पूरी जांच करते हुए मेजर गोगोई को सजा दिलानी चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles