prak11

prak11

भीमा-कोरेगांव हिंसा का मामले को लेकर एक बार फिर से देश के संविधान निर्माता डॉ. भीम राव अंबेडकर के पौत्र प्रकाश अंबेडकर ने भगवा संगठनों पर हमला बोलते हुए कहा कि देश में अगर धर्म आधारित राजनीति को बंद नहीं किया गया तो देश में कई हाफिज सईद पैदा होंगे.

भोपाल में अखिल भारतीय महात्मा फुले समता परिषद के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रकाश आंबेडकर ने कहा पुणे की घटना पर कहा कि सरकार झूठ और भ्रम फैलाने का काम कर रही है. इस मामले में उन्होंने गुरुवार को महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से भी मुलाकात की.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

फडणवीस से भी मुलाकात के बाद उन्होंने कहा, ‘हिंसा को लेकर लोग गुस्‍से में हैं. हमलोग बंद के दौरान किसी तरह उनके गुसे को रोकने में समर्थ रहे थे, लेकिन लंबे समय तक ऐसा नहीं किया जा सकता है. हमने शुरुआत में ही आरोपियों का नाम स्‍पष्‍ट करते हुए भिड़े और एकबोटे के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई थी. हिंसा भड़काने को लेकर उनके खिलाफ त्‍वरित कार्रवाई की भी मांग की गई थी. अब मुख्‍यमंत्री ने उन्‍हें गिरफ्तार करने का भरोसा दिलाया है. भिड़े को गिरफ्तार किया जाता है या नहीं, यह देखना महत्‍वपूर्ण होगा.’

आंबेडकर के आरोपों पर संभाजी भिड़े ने पहली बार सामने आकर अपनी सफाई दी है. संभाजी ने कहा है कि उनपर लगाए गए सभी आरोप गलत हैं. संभाजी भिड़े का कहना है, ‘’ये कहना गलत है कि मैं पुणे में दंगे वाली जगह पर मौजूद था और मैं दंगे के लिए जिम्मेदार हूं.

उन्होंने कहा, दलित नेता प्रकाश आंबेडकर ने मेरे खिलाफ हिंसा के आरोप लगाए हैं. इस मामले की गहरी जांच होनी चाहिए. मैं हिंदुओं में राष्ट्रवाद की भावना जगाने के लिए काम करता हूं.’’

Loading...